UP BHULEKH | यूपी भूलेख खसरा खतौनी कैसे देखें? भूलेख नक्शा उत्तर प्रदेश 2023 www.upbhulekh.gov.in

UP BHULEKH नक्शा उत्तर प्रदेश 2023: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने अपने राज्य में भूलेख पोर्टल का आरंभ किया है। भूलेख का अर्थ है भूमि से संबंधित सारा लेखा-जोखा। यूपी सरकार ने 2 मई 2016 में ही भूमि रिकॉर्ड को जानने के लिए कंप्यूटर पर इसकी व्यवस्था कर दी थी लेकिन अब योगी जी ने यूपी भूलेख पोर्टल का शुभारंभ कर दिया है। इससे पहले भूमि से  जुड़ा सारा विवरण कागजों में ही लिखित मिलता था। यह सारा विवरण अब ऑनलाइन उपलब्ध कर दिया गया है।

यूपी भूलेख पोर्टल (UP Bhulekh Portal) यूपी भूलेख का मतलब है उत्तर प्रदेश की भूमि का लिखित विवरण। इस विवरण के लिए यूपी सरकार ने एक वेबसाइट शुरू की है जिसके माध्यम से लोगों की पूरी जमीन का लेखा-जोखा ऑनलाइन उपलब्ध है। राज्य के नागरिकों को अपनी जमीन का सारा विवरण अब बड़ी आसानी से घर बैठे ही इंटरनेट के माध्यम से प्राप्त हो सकता है। कोई भी व्यक्ति अपनी जमीन से संबंधित सारी जानकारी घर बैठे ही प्राप्त कर सकता है।

UP Bhulekh Khasra Khatoni

खसरा खतौनी दोनों ही शब्द उर्दू भाषा की है। भूमि के किसी चिन्हित टुकड़े का नंबर या खेत का नंबर खसरा कहलाता है। भूलेख को भी कहीं खेत के कागजात, खेत का खाता या व्यारा नक्शा नकल इत्यादि कहते हैं। भूमि से जुड़ा सारा कार्य राजस्व विभाग के अधिकार क्षेत्र में आता है। यहां हर रोज सैकड़ों गतिविधियां भूमि से संबंधित ही होती है। इन सब को कंप्यूटराइज करने के लिए इस पोर्टल को शुरू किया गया है। इस सुविधा से सारा कार्य सुव्यवस्थित और सुचारू हो सकता है।

यूपी भूलेख पोर्टल (UP Bhulekh Portal)

उत्तर प्रदेश भूलेख पोर्टल की सुविधा से राज्यों के नागरिकों को घर बैठे ही अपनी जमीन से जुड़ी सारी जानकारी ऑनलाइन प्राप्त कर सकते हैं। इस प्रक्रिया के माध्यम से राजस्व विभाग के सारे कार्यों में पारदर्शिता रहती है। इसके शुरू होने से पहले उत्तर प्रदेश भूलेख का सारा रिकॉर्ड कागजों में ही होता था। मई 2016 से इसे कंप्यूटर पर लगाया गया जिसके बाद व्यवस्था में काफी सुधार हुआ है और अब योगी सरकार द्वारा शुरू की गई भूलेख पोर्टल के कारण लोगों को घर बैठे अपनी जमीन से संबंधित कोई भी जानकारी हासिल हो जाती है। अब उन्हें छोटे-मोटे काम के लिए पटवारी के पास नहीं जाना पड़ता। इस तरह उनके समय और पैसे दोनों में ही बचत होती है। जमीन से जुड़ा सारा विवरण इस पोर्टल सुविधा से व्यक्ति जान सकता है, उसकी जमीन कहां है और कितनी है।

यूपी भूलेख ऑनलाइन का उद्देश्य (UP Bhulkeh Online)

यूपी भूलेख ऑनलाइन (UP Bhulekh Online) का मुख्य उद्देश्य भूमि से जुड़े सारे कार्यों को सरल सुचारू और सुव्यवस्थित बनाना है, राज्य के नागरिकों को जमीन से संबंधित सारी जानकारी घर बैठे ही उपलब्ध करवाना है। लोगों को हर जानकारी प्राप्त करने के लिए अब पटवारी या तहसीलदार के पास जाना नहीं पड़ेगा। राज्य के किसानों को उनकी जमीन या खेत से संबंधित जानकारी को ऑनलाइन प्रदान करना इस पोर्टल का मुख्य उद्देश्य है।

उत्तर प्रदेश भूलेख पोर्टल के लाभ (Benefits of UP Bhulekh Portal)

  • यू पी भूलेख पोर्टल शुरू होने से पहले खसरा खतौनी प्राप्त करने के लिए आवेदक को तहसीलों के चक्कर लगाने पड़ते थे, लेकिन यूपी भूलेख ऑनलाइन सर्विसेज शुरू होने के बाद राज्य के सभी नागरिक अब घर बैठे ही इंटरनेट का इस्तेमाल करके अपनी भूमि से संबंधित सारी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं या खसरा खतौनी देख सकते हैं।
  • इसके लिए आवेदक को खसरा नंबर और जमाबंदी नंबर पता होना चाहिए, जिसे निश्चित स्थान पर डालकर वे आसानी से जमीन का नक्शा प्राप्त कर सकते हैं।
  • अपनी जमीन का पूरा विवरण राज्यों के लोग घर बैठे ही आसानी से प्राप्त कर सकते हैं।
  • यूपी भूलेख पोर्टल बिल्कुल मुफ्त है, इसे इस्तेमाल करने के लिए किसी भी प्रकार का कोई शुल्क नहीं लगता।

उत्तर प्रदेश भूलेख नक्शा ऑनलाइन सर्विसेज

भूलेख पोर्टल की ऑनलाइन सुविधा से राज्य के लोगों के समय और पैसे दोनों की बचत होगी क्योंकि इस सुविधा को शुरू करने से पहले लोगों को भूमि से जुड़ी हर छोटी-बड़ी जानकारी प्राप्त करने के लिए पटवारी के दफ्तर चक्कर लगाने पड़ते थे और यह और भी कठिन हो जाता है कि जब इच्छुक व्यक्ति स्वस्थ हो। इस पोर्टल सुविधा से जमीनी कार्यप्रणाली में पारदर्शिता आएगी और जमीन से संबंधित कोई भी धोखाधड़ी नहीं होगी।

उत्तर प्रदेश भूलेख खसरा खतौनी देखने की प्रक्रिया

इस पोर्टल के माध्यम से आवेदक अपनी जमीन से संबंधित कोई भी जानकारी हासिल करना चाहते हैं तो नीचे दी गई प्रक्रिया के द्वारा प्राप्त कर सकते हैं।

  • सबसे पहले आवेदक को बुलेट की ऑफिशियल वेबसाइट https://upbhulekh.gov.in पर जाना पड़ेगा, ऐसा करने से आवेदक के सामने क्रम से ऑनलाइन सुविधाएं आ जाएंगी।
  • यदि आवेदक खसरा खतौनी की नकल के बारे में जानना चाहता है तो उसे खसरा नकल के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा इस पर क्लिक करते ही आवेदक की स्क्रीन पर अगला पेज खुल जाएगा।
  • इस पेज पर आवेदक को निर्दिष्ट स्थान पर कैप्चा कोड भरना होगा। कैप्चा कोड भरकर आवेदक को सबमिट वाले विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आवेदक की स्क्रीन पर एक और नया पे जाएगा। इस पेज पर आवेदक को अपना नाम पता गांव जिला तहसील खसरा खतौनी नंबर या पट्टे की जानकारी इत्यादि भरना होगा। यह सारी जानकारी आवेदक को सही तरीके से और सही जगह पर भरनी होगी।
  • इस प्रकार पूरी जानकारी भरने के बाद सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा। ऐसा करने पर आवेदक की स्क्रीन पर भूलेख की सारी जानकारी मिल जाएगी।

Uttar Pradesh Khasra Khatauni

 उत्तर प्रदेश भूलेख नक्शा ऑनलाइन देखने का तरीका

  • आवेदक को सबसे पहले यूपी भूलेख नक्शा की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना पड़ेगा।
  • इसके बाद उसके सामने होम पेज खुल जाएगा।
  • इस पेज पर पूछी दे सारी जानकारी आवेदक को सही से भरनी है जैसे उसका नाम पता गांव तहसील जिला इत्यादि। इसके पश्चात आवेदक के सामने चुने हुए क्षेत्र का नक्शा आ जाएगा।
  • यदि आवेदक खाताधारक के संबंध में जाना चाहता है तो उसे अपने फॉर्म संख्या पर क्लिक करना होगा।
  • ऐसा करने पर स्क्रीन पर उसको लहंगा संख्या दिखाई देगी। अब नीचे दिए गए कॉलम में खाता धारक का नाम भरना होगा जिसे वह देखना चाहता है। अगर कोई व्यक्ति अपनी जमीन के नक्शे का प्रिंट आउट लेना चाहता है तो वह भी ले सकता है।

खसरा खतौनी एक बहुत ही महत्वपूर्ण दस्तावेज है जो आवेदक की जमीन से जुड़ा हुआ है। यदि कभी आवेदक की जमीन पर कोई अधिग्रहण करने की कोशिश करता है, उस वक्त मालिकाना हक दिखाने नहीं यह कागजात बहुत काम आता है। आवेदक की जमीन या खेत से संबंधित पूरा विवरण उत्तर प्रदेश भूलेख खसरा खतौनी (UP Bhulekh Khasra Khatoni) में मौजूद रहता है।

उत्तर प्रदेश तहसील की सुची कैसे देखे? How to check Uttar Pradesh Tehsil list?

उत्तर प्रदेश तहसील की सुची देखना बहुत आसान है।

  • सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश भुलेख की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • आधिकारिक वेबसाइट के होमपेज पर आपको “तहसील” लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप विकल्प पर क्लिक करें तहसील की सूची आपके सामने खुल जाएगी।
  • आप भविष्य में इस्तमाल के लिए तहसील की सूची को डाउनलोड कर सकते हैं।

UP List of Tehsil

उत्तर प्रदेश परगना की सुची कैसे देखे? How to check Uttar Pradesh Pargana list?

आप नीचे दिए गए चरणों का पालन करके उत्तर प्रदेश परगना की सूची देख सकते हैं।

  • सबसे पहले उत्तर प्रदेश भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • आपको आधिकारिक वेबसाइट के होमपेज पर “परगना” का विकल्प मिलेगा।
  • लिंक पर क्लिक करते ही आपके कंप्यूटर पर उत्तर प्रदेश राज्य के सभी प्रागनाओं की सूची आ जाएगी।
  • आप सूची को आसानी से डाउनलोड कर सकते हैं और इसे भविष्य के संदर्भ के लिए सुरक्षित रख सकते हैं।

Uttar Pradesh Pargana List

मोबाइल पर यूपी भूलेख कैसे प्राप्त करें? How to get UP Bhulekh on Mobile?

उत्तर प्रदेश भुलेख अब आपके स्मार्टफोन में भी उपलब्ध है। यूपी भुलेख की जानकर अपने फोन पारे के लिए निचे दिए गए स्टेप्स का पालन करे।

  • सर्वप्रथम आपको अपने एंड्रॉइड स्मार्टफोन में गूगल प्ले स्टोर खोलना होगा।
  • फिर प्ले स्टोर में आपको सर्च बॉक्स में यूपी भुलेख सर्च करना होगा।
  • इसके बाद आपको सर्च बटन पर क्लिक करना होगा।
  • उसके बाद आपके सामने बहुत सी एप्लीकेशन की लिस्ट आएगी।
    इस लिस्ट में से आपको अधिकारी यूपी भुलेख की एप्लीकेशन ऑफ सेलेक्ट करना होगा।
  • फिर, आप अधिकारी एप्लिकेशन को डाउनलोड और इंस्टॉल करें।
  • इंस्टॉल करने के पश्यात आप उत्तर प्रदेश भुलेख को अपने मोबाइल फोन में इंस्टॉल कर सकते हैं।

How to submit a compliant in Uttar Pradesh Bhulekh Department? उत्तर प्रदेश भूलेख सम्बन्धी शिकायत कैसे दर्ज करे?

  • शिकायत दर्ज करने के लिए, आपको आधिकारिक वेबसाइट यानी upbhulekh.gov.in पर जाना होगा।
  • होमपेज पर, आपको नीचे स्क्रॉल करना चाहिए और “शिकायत पंजिकरण” बटन पर क्लिक करना चाहिए।
  • उसके बाद आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज खुलेगा। इस पेज पर आपको अपनी शिकायत से जुड़ी सभी जरूरी जानकारियां देनी होंगी।
  • अंत में, सबमिट बटन पर क्लिक करें।
  • इस तरह आप उत्तर प्रदेश भूलेख शिकायत दर्ज कर सकते हैं।

UP Bhulekh Complaint

How to check the status of your UP Bhulekh complain? अपनी यूपी भूलेख शिकायत की स्थिति की जांच कैसे करें?

  • अपनी यूपी भुलेख शिकायत की स्थिति की जांच करने के लिए, आपको उत्तर प्रदेश भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • होम पेज पर नीचे स्क्रॉल करें और “शिकायत की स्थिति जाने” बटन पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज खुलेगा।
  • अगले चरण में, आपको अपनी शिकायत की संदर्भ संख्या दर्ज करनी होगी।
  • आपकी शिकायत की स्थिति अब आपकी स्क्रीन पर दिखाई देगी।

Frequently Asked Questions

Question – 1: मैं यूपी भूलेख ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से भूलेख की जानकारी किन जिलों के लिए देख सकता हूं?

Answer: उत्तर सभी जिलों के भूलेख की जानकारी ऑनलाइन पोर्टल पर उपलब्ध है। जिले की सूची नीचे दी गई है।

  • आगरा
  • झांसी
  • अलीगढ़
  • कन्नौज
  • अंबेडकर नगर
  • कानपुर देहात
  • अमेठी
  • कानपुर नगर
  • अमरोहा
  • कासगंज
  • औरैया
  • कौशांबी
  • अयोध्या
  • खेरी
  • आजमगढ़
  • कुशीनगर
  • बागपत
  • ललितपुर
  • बहराइच
  • लखनऊ
  • बलिया
  • महोबा
  • बलरामपुर
  • महाराजगंज
  • बांदा
  • मणिपुर
  • बाराबंकी
  • मथुरा
  • बरेली
  • मऊ
  • बस्ती
  • गाजीपुर
  • शामली
  • गोंडा
  • श्रावस्ती
  • गोरखपुर
  • सिद्धार्थनगर
  • हमीरपुर
  • सीतापुर
  • हापुर
  • सोनभद्रआ
  • हरदोई
  • सुल्तानपुर
  • हाथरस
  • उन्नाव
  • जलाऊं
  • वाराणसी
  • जौनपुर
  • मेरठ
  • बिजनौर
  • मिर्जापुर
  • बदायूं
  • मुरादाबाद
  • बुलंदशहर
  • मुजफ्फरनगर
  • चंदौली
  • पीलीभीत
  • चित्रकूट
  • प्रतापगढ़
  • देवरिया
  • प्रयागराज
  • एटा
  • रायबरेली
  • इटावा
  • रामपुर
  • फर्रुखाबाद
  • सहारनपुर
  • फतेहपुर
  • संभल
  • फिरोजाबाद
  • संत कबीर नगर
  • गौतम बुद्ध नगर
  • संत रविदास नगर
  • गाजियाबाद
  • शाहजहांपुर

Question – 2: क्या मुझे उत्तर प्रदेश भूलेख से डुप्लीकेट खतौनी हासिल करने के लिए कोई शुल्क देना होगा?

Answer: नहीं, यह सुविधा उत्तर प्रदेश भूलेख के माध्यम से निशुल्क उपलभ्ध है

Question – 3: What are the contact detail to get answers to my doubt and queries related to the Uttar Pradesh Bhulekh? उत्तर प्रदेश भूलेख से संबंधित मेरे संदेह और प्रश्नों के उत्तर पाने के लिए कांटेक्ट डिटेल्स क्या हैं?

Answer: The contact detail of the UP Bhulekh (Department of Revenue) is given below.

Address – कम्प्यूटर सेल, राजस्व परिषद्, लखनऊ, उत्तर प्रदेश

Phone Number – 0522-2217145

Official Website – [email protected]

Spread the Knowledge

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *